अनिल कुंबले से आगे निकले जेम्स एंडरसन, 40 साल की उम्र में किया यह रिकॉर्ड हासिल

/
Advertisement
  • पाकिस्तान के खिलाफ रावलपिंडी टेस्ट में जेम्स एंडरसन ने किया शानदार प्रदर्शन।

  • दूसरी पारी में एंडरसन ने चार विकेट झटकें।

अनिल कुंबले से आगे निकले जेम्स एंडरसन, 40 साल की उम्र में किया यह रिकॉर्ड हासिल
जेम्स एंडरसन (फोटो सोर्स: ट्विटर)
Advertisement

इंग्लैंड की टीम 17 वर्षो बाद पाकिस्तान में टेस्ट श्रृंखला खेल रही है। बता दें,रावपिंडी में खेले गए पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने पाकिस्तान को 74 रन से हराकर 3 मैच की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। बेन स्टोक्स की कप्तानी वाली टीम की ओर से ओली रॉबिन्सन और जेम्स एंडरसन ने दूसरी पारी में 4-4 विकेट हासिल किए। वहीं पहली पारी में विल जैक्स ने 6 विकेट लिए थे। एंडरसन और रॉबिन्सन के शानदार गेंदबाजी के दम पर मेहमान टीम ने पाकिस्तान को 268 रन पर ढेर कर दिया। इन सब के बीच अंग्रेजी टीम दिग्गज गेंदबाज एंडरसन ने सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में अनिल कुंबले को पीछे छोड़ दिया है।

दरसल एंडरसन अब इंटरनेशनल क्रिकेट में तीसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। इस मामले में वो दिग्गज स्पिनर कुंबले से आगे हो गए हैं। कुंबले के नाम इंटरनेशनल क्रिकेट में कुल मिलाकर 956 विकेट दर्ज हैं। वहीं एंडरसन के नाम अब 959 इंटरनेशनल विकेट हो गए हैं। बता दें कि इस लिस्ट में पहले नंबर पर महान श्रीलंकाई स्पिनर मुथैया मुरलीधरन हैं। मुरली के नाम 495 अंतरराष्ट्रीय मैचों में कुल 1347 विकेट हैं। जबकि इस मामले में दूसरे नंबर पर ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज स्पिनर शेन वॉर्न काबिज हैं। वॉर्न के नाम 339 मैच में कुल 1001 विकेट हैं।

40 साल के एंडरसन ने मैच दर मैच अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया है, वरना उम्र के इस पड़ाव में आते ही क्रिकेटरों को संन्यास की सलाह देने वालों की लाइन लग जाती है। बताते चले कि एंडरसन ने अब तक कुल 389 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं जिसमे इस अनुभवी खिलाड़ी को 959 विकेट प्राप्त हुए हैं।

सर्वाधिक विकेट लेने वालो की सूचि में तीसरे नंबर पर जगह बनाने वाले एंडरसन ने इंग्लैंड की जीत पर स्काई स्पोर्ट्स से कहा, “यह शायद सर्वश्रेष्ठ जीतों में से एक है जिसमें मैं शामिल रहा हूं। ऐसी पिच पर इस तरह से खेलकर, इस दर से इतने रन बनाकर हमने ख़ुद को नतीजा प्राप्त करने का मौक़ा दिया। और मुझे लगता है कि खेल के अंत में हम ख़ुद को उस स्थिति में रखने के योग्य थे।”

उन्होंने आगे कहा, “आज, यह सभी की ओर से एक अविश्वसनीय प्रयास था। हमने गेंद को रिवर्स (स्विंग) करने, कुछ हरकत प्राप्त करने की बहुत कोशिश की और हमने जीत हासिल करने के लिए पर्याप्त मौक़े बनाए। यह कठिन था लेकिन हम जानते थे कि यह मुश्किल होने वाला था।”

टैग: ,

श्रेणी: जेम्स एंडरसन

लेखक के बारे में:
टी-20 के दौर में टेस्ट के दीवाने.. विराट कोहली के बड़े प्रशंसक...बाकी स्पोर्ट्स जर्नलिज्म के बारीकियों को समझने समझाने में व्यस्त।अभिनय से संपर्क करने के लिए abhinay.pratap@crickettimes.com पर ईमेल करें।
Advertisement